बहुत ही ज्यादा फलदायी होते है भगवान विष्णु जी के मंत्र । अपनी इच्छा अनुसार किसी भी मंत्र का जाप करें और सुख समृद्धि प्राप्त करें।  

vishnu ji ke mantra

विष्णु जी के मंत्र

हिन्दू शास्त्रो के अनुसार प्रतिदिन स्नान आदि करके स्वछ वस्त्र धरण करके यदि सच्चे मन से विष्णु जी के मंत्र का जाप किया जाये तो इंसान सभी कस्टो से मुक्त हो जाता है और भगवान विष्णु जी विशेष अनुकंपा प्राप्त होती है । भगवान विष्णु जी का स्वभाव शांत और करुणामयी माना है गया है विष्णु भगवान ही जगत के पालन हार भी है । विशेष रूप से श्रावण, कार्तिक और बेसाख के महीने मे भगवान श्री हरी विष्णु जी पूजा अधिक फलदायी होती है।vishnu ji ke mantra




आप सभी के लिए प्रस्तुत है भगवान श्री विष्णु जी के कुछ लाभदायी मंत्र , जिनका निरंतर जाप से आप सुख, समृद्धि और धन संपत्ति इत्यादि की प्राप्ति कर सकते है।vishnu ji ke mantra




विष्णु जी के मंत्र

1. ॐ विष्णवे नम:vishnu ji ke mantra
2- ॐ हूं विष्णवे नम:vishnu ji ke mantra
3- ॐ नमो भगवते वासुदेवाय bhagwan vishnu ke mantra
4– श्रीकृष्ण गोविन्द हरे मुरारे।vishnu ji ke beej mantra

  हे नाथ नारायण वासुदेवाय।।

5- ॐ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।।
6- नमो नारायण। श्री मन नारायण नारायण हरि हरि।  

7- लक्ष्मी विनायक मंत्र – 

दन्ताभये चक्र दरो दधानं,

कराग्रगस्वर्णघटं त्रिनेत्रम्।

धृताब्जया लिंगितमब्धिपुत्रया

लक्ष्मी गणेशं कनकाभमीडे।।

8- सरल मंत्र –

ॐ अं वासुदेवाय नम:

– ॐ आं संकर्षणाय नम:

– ॐ अं प्रद्युम्नाय नम:

– ॐ अ: अनिरुद्धाय नम:

– ॐ नारायणाय नम:

9- धन-वैभव एवं समृद्धि  का मंत्र – 

ॐ भूरिदा भूरि देहिनो, मा दभ्रं भूर्या भर। भूरि घेदिन्द्र दित्ससि। 

ॐ भूरिदा त्यसि श्रुत: पुरूत्रा शूर वृत्रहन्। आ नो भजस्व राधसि।

10- विष्णु जी का पंचरूप मंत्र –

ॐ ह्रीं कार्तविर्यार्जुनो नाम राजा बाहु सहस्त्रवान। यस्य स्मरेण मात्रेण ह्रतं नष्‍टं च लभ्यते।।

यह भी अवश्य पढे :




श्री विष्णु सहस्त्रनाम स्तोत्रम download करें 
महालक्ष्मी चालीसा पढे और भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी दोनों को प्रसन्न करें। 
शनि देव के मंत्रो से करें कष्टो का निवारण 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here